DCA Computer Course in Hindi : DCA कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

DCA-Computer-Course-in-Hindi

आज के कंप्यूटर के जमाने में हर किसी को कंप्यूटर का नॉलेज होना जरूरी है चुका है। सभी क्षेत्रों में आज अधिकांश काम कंप्यूटर के जरिए हीं किए जाते हैं, ऐसे में अच्छे करियर के लिए कंप्यूटर का ज्ञान होना आवश्यक है। अगर आपको कंप्यूटर का बिल्कुल भी नॉलेज नहीं है तो आप DCA (DCA Course in Hindi) कोर्स के जरिए कंप्यूटर का बेसिक नॉलेज हासिल कर सकते हैं। इस कोर्स को सीखने के बाद आपको कंप्यूटर क्षेत्र में अच्छी नौकरी मिलने की संभावना बढ़ जाती है

DCA कंप्यूटर कोर्स क्या है? (DCA Computer Course in Hindi)

DCA कंप्यूटर कोर्स क्या है

DCA एक डिप्लोमा कोर्स है जिसका फूल फॉर्म है डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लिकेशन। जिसमें मुख्य रूप से कंप्यूटर एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर का नॉलेज दिया जाता है। इस कोर्स के जरिए आपको कंप्यूटर संबंधित चीजें जैसे MS Excel, MS Word, Power Point, Internet, Photoshop, Editing, Graphic Designing के बारे में बेसिक जानकारी दी जाती है। जो कंप्यूटर क्षेत्र करियर बनाना चाहते हैं उनके लिए यह कोर्स काफी काम आता है। इस कोर्स में छात्रों को नॉलेज के साथ साथ प्रेक्टिकल प्रशिक्षण भी दिया जाता है।

DCA कंप्यूटर कोर्स के फायदे (Benefits of DCA Computer Course in Hindi)

• DCA कोर्स करने के बाद आप बैंक, स्कूल, कॉलेज, रेलवे, ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर के तौर पर काम कर सकते हैं।

• इस कोर्स को करने के बाद प्राइवेट कंपनियों के साथ साथ आपको सरकारी कंपनियों में भी अच्छी नौकरी मिल जाती है।

• इस कोर्स करने के बाद आप फ्रीलांसर के तौर पर भी काम कर सकते हैं।

• इस कोर्स को करने के बाद आप दूसरों को कंप्यूटर सीखाकर भी पैसे कमा सकते हैं।

• SSC, IBPS, Clerk आदि competitive exams दे रहे है तो आपके पास computer में certificate या diploma का होना अनिवार्य होता है। ऐसे में DCA का सर्टिफिकेट आपको काफी काम आ सकता है।

DCA कंप्यूटर Course क्यों करना चाहिये?

• कंप्यूटर की बेसिक जानकारी के लिए DCA कोर्स सबसे अच्छा विकल्प है।

• इसमें कंप्यूटर एप्लिकेशन के बारे में सिखाया जाता है, जिसकी वजह से छात्र प्रोग्रामिंग, माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस और दूसरे सॉफ्टवेयर पर आसानी से काम कर सकते हैं।

• DCA कोर्स करने के बाद आपको कंप्यूटर के किसी भी क्षेत्र में नौकरी मिल सकती है।

• अगर आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो मान्य संस्थान से किया गया DCA का कोर्स काम आ सकता है।

• अगर आप नौकरी नहीं करना चाहते तो आप फ्रीलांसर के तौर भी घर बैठे काम करके पैसे कमा सकते हैं। इतना ही नहीं आप चाहें तो दूसरे छात्रों को सुखाकर भी पैसे कमा सकते हैं।

• रिमोट जॉब ऑफर करती कई इंटरनेशनल कंपनियों के लिए काम करके आप डॉलर में भी कमाई कर सकते हैं।

• मान्य संस्थान से DCA कोर्स करने के बाद आपको सर्टिफिकेट दिया जाता है जिसे आप रिज्यूमे में जोड़ सकते हैं।

• इसमें आपको मुख्य रूप से कंप्यूटर नेटवर्किंग, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट और वेब डेवलपमेंट के बारे में सिखाया जाता है, जिसकी वजह से आप इस क्षेत्र में निपुणता हासिल कर सकते हैं।

• DCA कोर्स करने के बाद आपको सीधे हीं BCA के दूसरे सेमेस्टर में एडमिशन मिल जाता है।

DCA कंप्यूटर Course किसे करना चाहिए?

जिस छात्र को कंप्यूटर में रूचि है और जो कंप्यूटर क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता है, उसे DCA कोर्स करना चाहिए। जिसे कंप्यूटर की बिल्कुल भी जानकारी नहीं है उनके लिए यह कोर्स सबसे अच्छा विकल्प है। इस कोर्स से कंप्यूटर की बेसिक जानकारी हीं नहीं बल्कि सॉफ्टवेयर संबंधित जानकारी भी दी जाती है। किसी भी स्ट्रीम का छात्र यह कोर्स कर सकता है। यह कोर्स करने के बाद नौकरी के कई अवसर मिल जाते हैं। इतना ही नहीं कंप्यूटर संबंधित कई समस्याओं को आप खुद भी सुलझा सकते हैं।

DCA कोर्स की योग्यता ( Eligibility of DCA Computer Course in Hindi)

जिस छात्र को कंप्यूटर में रूचि है और जो कंप्यूटर क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता है, उसे DCA कोर्स करना चाहिए। जिसे कंप्यूटर की बिल्कुल भी जानकारी नहीं है उनके लिए यह कोर्स सबसे अच्छा विकल्प है। इस कोर्स से कंप्यूटर की बेसिक जानकारी हीं नहीं बल्कि सॉफ्टवेयर संबंधित जानकारी भी दी जाती है। किसी भी स्ट्रीम का छात्र यह कोर्स कर सकता है। यह कोर्स करने के बाद नौकरी के कई अवसर मिल जाते हैं। इतना ही नहीं कंप्यूटर संबंधित कई समस्याओं को आप खुद भी सुलझा सकते हैं।

DCA कोर्स का सिलेबस ( DCA Syllabus in Hindi )

DCA एक बेसिक कंप्यूटर कोर्स है, जिसमें आपको रोज़मर्रा में उपयोग में आनेवाले कंप्यूटर एप्लिकेशन के बारे में सिखाया जाता है। थियरी के साथ साथ इसमें आपको प्रेक्टिस ज्ञान भी दिया जाता है। 1 साल के इस कोर्स के सिलेबस को 2 सेमेस्टर में बांटा गया है।

सेमेस्टर 1 का सिलेबस :

  • कंप्यूटर और विंडोज फंडामेंटल
  • कंप्यूटर एप्लिकेशन फंडामेंटल
  • बेसिक नेटवर्किंग
  • इंटरनेट बेसिक और ई मेल
  • इंटरनेट ब्राउजिंग
  • प्रोग्रामिंग बेसिक
  • साईबर सिक्योरिटी बेसिक
  • डिजिटल अवेयरनेस

सेमेस्टर 2 का सिलेबस :

  • MS Word, MS Excel, MS PowerPoint (MS Office)
  • टैली प्राइम
  • फोटोशॉप, कॉलर ड्रॉ
  • डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम
  • प्रिंसिपल ऑफ प्रोग्रामिंग
  • डॉक्युमेंट हेन्डलिंग
  • इंटरनेट और उनके इस्तेमाल
  • प्रोजेक्ट वर्क

और पढ़े : MS Office क्या है? 

DCA कोर्स के बाद नौकरी ( DCA Course Jobs in Hindi)

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लिकेशन कोर्स करने के बाद आप सरकारी हीं नहीं गैर सरकारी संगठनों में भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

1. कंप्यूटर ऑपरेटर : सभी छोटी बड़ी ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर की जरूरत रहती है। जिसका काम डाटा एंट्री करना, प्रिन्ट निकालना, फॉर्म भरना, ई-मेल करना होता है।

2.  वेब डेवलपर : आप किसी भी कंपनी की वेबसाइट बनाकर पैसे कमा सकते हैं। यह काम आप घर बैठे भी कर सकते हैं।

3. सॉफ्टवेयर डेवलपर : आप किसी भी कंपनी का सॉफ्टवेयर तैयार करके भी पैसे कमा सकते हैं। इसके अलावा सॉफ्टवेयर टेस्टिंग के जरिए भी पैसे कमा सकते हैं।

4. नेटवर्किंग फील्ड : कई ऐसे क्षेत्र होते हैं जहां सभी कंम्पयूटर एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं। LAN के जरिए सभी कंम्पयूटर को एक दूसरे के साथ जोड़कर रखा जा सकता है और इसके लिए नेटवर्क ऑपरेटर की जरूरत पड़ती हैं। DCA कोर्स के बाद आप इसके लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

4. ग्राफिक्स डिजाइनर : किसी भी कंपनी के लिए लोगों डिजाइन, पैम्फलेट डिजाइन या प्रोडक्ट डिजाइन करके भी आप पैसे कमा सकते हैं इसके अलावा आप टेक्निकल राइटिंग, प्रोग्रामिंग डेवलपमेंट, डिजिटल मार्केटर, अकाउंटंट के तौर पर भी करियर बना सकते हैं।

DCA कोर्स कैसे सीखें (How to Learn DCA Course in Hindi)

DCA का कोर्स करने के लिए 12वीं पास होना जरूरी है। आप किसी भी सरकारी मान्यता प्राप्त संस्था में से कर सकते हैं। इसके अलावा आप ऑनलाइन ट्यूटोरियल के जरिए भी DCA का कोर्स कर सकते हैं। YouTube पर भी आपको कई फ्री ट्यूटोरियल मिल जाएंगे। इसके अलावा मार्केट में इस कोर्स के संबंधित किताबें खरीद के उसकी सहायता से भी यह कोर्स कर सकते हैं।

और पढ़े : ADCA कोर्स क्या है?

निष्कर्ष

कंप्यूटर के इस दौर में कंप्यूटर का नॉलेज सभी के लिए जरूरी है। कंप्यूटर के नॉलेज से आपके लिए करियर के अवसर खुल जाते हैं। अगर आप भी कंप्यूटर एप्लिकेशन के बारे में सिखाना चाहते हैं तो DCA (DCA Course in Hindi) – डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लिकेशन बहुत ही अच्छा कोर्स है। 6 Months की अवधि के इस कोर्स के जरिए आप सरकारी हीं नहीं गैर सरकारी संगठनों में भी अच्छी कमाई कर सकते हैं। अगर आप भी DCA Computer Course सिखने के बाद कंप्यूटर फील्ड फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते तोह आज ही पटना का सबसे सर्वोतम DCA Training इंस्टिट्यूट BCIT WORLD में आज ही अपना डेमो फिक्स करे ।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

Q1. DCA Course करने के फायदे क्या है?

DCA का कोर्स करने के बाद आपको किसी भी सरकारी या प्राइवेट कंपनियों में अच्छी नौकरी मिल सकती है। इतना ही नहीं अगर आप competative परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो भी यह कोर्स आपको काफी फायदेमंद साबित होगा।

Q2. DCA में कौन कौन सा कोर्स होता है?

DCA में कंप्यूटर और विंडोज फंडामेंटल, कंप्यूटर एप्लिकेशन फंडामेंटल, बेसिक नेटवर्किंग, इंटरनेट बेसिक और ई मेल, इंटरनेट ब्राउजिंग, प्रोग्रामिंग बेसिक, साईबर सिक्योरिटी बेसिक, डिजिटल अवेयरनेस, MS Word, MS Excel, MS PowerPoint (MS Office), टैली प्राइम, फोटोशॉप, कॉलर ड्रॉ, डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम, प्रिंसिपल ऑफ प्रोग्रामिंग, डॉक्युमेंट हेन्डलिंग, इंटरनेट और उनके इस्तेमाल और प्रोजेक्ट वर्क शामिल हैं।

Q3. DCA करने से क्या होता है?

DCA कोर्स में कंप्यूटर के बेसिक से लेकर एडवांस नॉलेज शामिल हैं ऐसे में आप इस कोर्स करने के बाद अच्छी नौकरी हासिल कर सकते हैं, इतना ही आप घर बैठे भी पैसे कमा सकते हैं।

Q4. DCA कोर्स की फीस कितनी है?

DCA कोर्स की फीस उसकी अवधि पर निर्भर करती है। आम तौर पर इसकी फीस 3000 से 6000 के बीच में हो सकती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *