Website in Hindi : वेबसाइट क्या है? पूरी जानकारी और फायदे

Website in Hindi वेबसाइट क्या है पूरी जानकारी और फायदे

आज के डिजिटल समय में सबकुछ ऑनलाइन हो गया है। ऐसे में आपकी या आपके बिजनेस की डिजिटल उपस्थित बहुत ही अनिवार्य है। अपने बिजनेस का व्याप बढ़ाने के लिए सारी जानकारी के साथ बनाई गई वेबसाइट (Website in Hindi) आज के समय क्लायंट या कस्टमर से संपर्क बनाने का एक महत्वपूर्ण जरिया है। आज के समय में किसी भी बिजनेस या कंपनी की डिजिटल पहचान बनाने के लिए  एक वेबसाइट होना जरूरी है ।

वेबसाइट क्या है? (Website in Hindi)

एक वेबसाइट कई वेब पेज का एक संग्रह होता है और वेब पेज डिजिटल फाइलें हैं जो HTML (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) का उपयोग करके लिखी जाती है। किसी भी वेबसाइट को दुनिया के हर व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए इसे चौबीसों घंटे इंटरनेट से जुड़े कंप्यूटर के माध्यम से होस्ट किया जाना चाहिए। जिसे वेब सर्वर कहां जाता है।

वेबसाइट के वेब पेज हाइपरलिंक और हाइपरटेक्स्ट से जुड़े हुए हैं। वेबसाइट में डॉक्युमेंट, ईमेज, वीडियो जैसी फाइलें भी स्टोर की जा सकती है। वेबसाइटें आम तौर पर किसी विशेष टॉपिक जैसे कि न्यूज़, एजुकेशन, कोमर्शियल, एंटरटेनमेंट या फिर सोशल मीडिया पर आधारित हो सकती है।

वेबसाइट की विशेषताएं ( Features of Website in Hindi)

1. ब्रांड नेम और लोगो : आपकी कंपनी का नाम वेबसाइट के होमपेज या फिर लैंडिंग पेज पर स्क्रीन के मिडल या फिर टोप पर होना चाहिए। लोगो की डिजाइन आपके ब्रांड नेम के अनुरूप होनी चाहिए।

2. डोमेन नेम : आपकी वेबसाइट का डोमेन नेम वह URL है जो ब्राउज़र के एड्रेस बार में दिखाई देता है। डोमेन नेम को एड्रेस बार में मैन्युअल रूप से भी एड किया जा सकता है या सर्ज एन्जिन के जरिए ढूंढा जा सकता है। इसलिए डोमेन नेम आसान और ब्रांड के अनुसार होना चाहिए।

3. संपर्क और सोशल मीडिया : वेबसाइट पर संपर्क और सोशल मीडिया की जानकारी जरुर होनी चाहिए ताकी अगर किसी को कोई क्वेरी हो तो वो आपसे संपर्क कर सके।

4. कॉल टू एक्शन : यह आपके संभवित क्लायंट या कस्टमर को कुछ खरीदने या न्यूज लेटर साइन अप या डाउनलोड करने के लिए प्रोत्साहित करने वाला बटन होता है जैसे कि Buy Now, Subscribe Download Now इत्यादि।

5. About Us Page: इस पेज पर आपके ब्रांड की स्टोरी को साझा किया जाता है। इसमें ब्रांड स्टोरी, मिशन, विजन को भी साझा किया जाता है।

वेबसाइट कितने प्रकार के होते हैं? (Types Of Website in Hindi)

वेबसाइट का प्रकार बिजनेस के अनुसार होता है। जिसमें से कुछ वेबसाइट निम्नलिखित हैं।

  • बिजनेस वेबसाइट
  • इ-कोमर्स वेबसाइट
  • ब्लोग वेबसाइट
  • पोर्टफोलियो वेबसाइट
  • मेंबरशिप वैबसाइट
  • नोनप्रोफिट वेबसाइट
  • पर्सनल वेबसाइट
  • न्यूज़ वेबसाइट
  • एजुकेशन वेबसाइट
  • वेब पोर्टल
  • सोशल मीडिया वेबसाइट

अच्छी वेबसाइट में क्या होना चाहिए?

किसी भी वेबसाइट को बनाने के लिए उनके निम्नलिखित फैक्टर्स को ध्यान में रखना जरूरी है।

  • रिस्पोंसिव डिजाइन
  • फंक्शन
  • SEO
  • यूजर फ्रेंडली
  • पेज स्पिड
  • स्ट्रक्चर डाटा
  • अप टू डेट कंटेंट

वेबसाइट कैसे बनाये? (How to Create Website in Hindi)

वेबसाइट बनाने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करें।

1. वेबसाइट का डोमेन सिलेक्ट करें और रजिस्टर करें : वेबसाइट बनाने से पहले डोमेन नेम पसंद करें। डोमेन नेम आसान और लोगो को आकर्षित करने वाला होना चाहिए। इसके बाद उस डोमेन नेम को रजिस्टर करें।

2. सहीं वेब होस्टिंग सिलेक्ट करें : होस्टिंग को आम भाषा मे सर्वर भी कहां जाता है। वेबसाइट के डाटा को स्टोर करने के लिए होस्टिंग जरूरी है। यह आप Go-Daddy, Big Rock, Hostinger जैसे वेबसाइट से खरीद सकते है।

3. वेबसाइट नेविगेशन : वेबसाइट पर यूजर बार बार आएं इसलिए जरूरी है की अच्छे से ऑर्गेनाइज करना जरूरी है। बैकलिंक या दूसरी लिंक का सहीं इस्तेमाल करें।

4. Sitemap का सहीं से इस्तेमाल करें : यह अलग-अलग URL का एक समूह है जो आपकी वेबसाइट के हीं होते हैं। वेबसाइट को आसान तरीके के सर्च करने के लिए Sitemap को सहीं तरीके से implement करना जरूरी है।

5. SEO : किसी भी वेबसाइट को रैंक करने के लिए SEO जरूरी है। इसलिए वैबसाइट को SEO फ्रैंडली रखें।

6. वेबसाइट एनालिटिक्स : वेबसाइट में आ रहे यूजर की जानकारी और वेबसाइट की इफेक्टिव को जानने के लिए वेबसाइट एनालिटिक्स का इस्तेमाल करें।

वेबसाइट डेवलपमेंट कोर्स का सिलेबस (Syllabus of Website in Hindi)

वेबसाइट डेवलपमेंट कोर्स में निम्नलिखित सिलेबस को कवर किया जाता है।

  • वेबसाइट डेवलपमेंट का परिचय
  • HTML
  • JS फंक्शन और ऑब्जेक्ट
  • JavaScript और HTTP
  • डाटाबेस इंटरेक्शन और UI
  • इंटरनेट के फंडामेंटल
  • DTD
  • XML
  • PHP और MySQL
  • वेब होस्टिंग

वेबसाइट डेवलपमेंट कोर्स कैसे सीखें (Learn Development of Website in Hindi)

वेबसाइट डेवलपमेंट के लिए आप किसी भी सरकार मान्य संस्थान से इस कोर्स को सीख सकते हैं। वेब डेवलपमेंट पर कई किताबें भी आपको आसानी से मिल जाएगी। इतना ही नहीं इसके अलावा ऑनलाइन भी आप सीख सकते हैं। यूट्यूब पर भी आपको वेब डेवलपमेंट पर कई ट्यूटोरियल मिल जाएंगे, जिसके जरिए आप मुफ्त में भी सीख सकते हैं।

निष्कर्ष

आज सभी कंपनी या बिजनेस के लिए वेबसाइट का होना आवश्यक हो चुका है। अपने बिजनेस का व्याप बढ़ाने के लिए वेबसाइट (Website in Hindi) एक अच्छा विकल्प है। इसके जरिए आप अपने बिजनेस को दूसरे देशों में फैलाने में भी मदद मिलती है। आपके संभवित क्लायंट या कस्टमर के लिए वेबसाइट एक ऐसा माध्यम है जिसके जरिए वो आपसे जुड़ पाते हैं। अगर आप भी वेबसाइट डेवलपमेंट कोर्स सिख के कंप्यूटर IT फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते तोह आज ही पटना का सबसे सर्वोतम Website Development Training इंस्टिट्यूट BCIT WORLD में आज ही अपना डेमो फिक्स करे ।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

Q1. वेबसाइट बनवाने के फायदे क्या है?

 वेबसाइट के जरिए अधिक से अधिक क्लायंट और कस्टमर आपसे जुड़ पाते हैं। अपने बिजनेस का व्याप बढ़ाने के लिए वेबसाइट एक अच्छा विकल्प है।

Q2. वेबसाइट डेवलपमेंट कहा से सीखे?

वेबसाइट डेवलपमेंट आप किसी भी सरकार मान्य संस्थान से सीख सकते हैं। या फिर ओनलाइन भी घर बैठे सीख सकते हैं। यूट्यूब के माध्यम से फ्री ट्यूटोरियल भी सिख सकते हैं।

Q3. वेबसाइट कैसे काम करता है?

वेबसाइट वेब पेज का समूह होता है। वेबसाइट के लिए आपको डोमेन नेम और वेब होस्टिंग की भी जरूरत पड़ती है।

Q4. वेबसाइट कैसे बनाई जाती है?

वेबसाइट आप वर्डप्रेस, ब्लोग या WiX के जरिए भी बना सकते हैं। डोमेन नेम, वेब होस्टिंग, SEO के माध्यम से वेबसाइट बनाई जाती है।

Q5. वेबसाइट कितने प्रकार के होते हैं?

बिजनेस वेबसाइट, इ-कोमर्स वेबसाइट, ब्लोग वेबसाइट, पोर्टफोलियो वेबसाइट, मेंबरशिप वैबसाइट, नोनप्रोफिट वेबसाइट, पर्सनल वेबसाइट, न्यूज़ वेबसाइट, एजुकेशन वेबसाइट, वेब पोर्टल, सोशल मीडिया वेबसाइट इत्यादि वेबसाइट के प्रकार है।

Q6. मैं वेबसाइट कैसे बना सकता हूं?

आप किसी भी वेब डेवलपर की मदद लेकर भी वेबसाइट बनवा सकते हैं या फिर वर्डप्रेस, ब्लॉग और WiX के जरिए भी वेबसाइट बना सकते हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *